कानपुर समाचार

ताज़ा खबरें

आतिफ के ‘चलते-चलते’ से दुखी लता मंगेशकर बोलीं- किसकी सहमति से गाने के बोल से की छेड़छाड़?

भारत रत्न लता मंगेशकर ने अपनी आवाज से पीढ़ियों को जोड़ा है. जिन नगमों को उनकी आवाज मिली, वो अमर हो गए. दशकों से लोग उनको सुनते आ रहे हैं. उनकी आवाज की खनक सात समुंदर पार तक गई और जिन-जिन के भी कानों तक पड़ी वो सब उनके मुरीद हो गए. बॉलीवुड में कई सारे गीत गा चुके पाकिस्तानी सिंगर आतिफ असलम ने हाल ही में लता जी का एक गाना गाया है जिस पर लता ने प्रतिक्रिया दी है.

लता मंगेशकर ने कहा- मैंने इस गाने को नहीं सुना है. मैं इसे सुनना भी नहीं चाहती. पुराने गानों के रिमिक्स बनाने का जो ट्रेंड चला है इससे मैं दुखी हूं. ऐसा करने में मुझे कोई रचनातमकता नजर नहीं आती. मैंने ये भी सुना है कि गाने के बोल भी बदले गए हैं. किसकी सहमति से ऐसा किया गया है? ऑरिजनल कवि और कंपोजर ने वो लिखा जो उन्हें लिखना था. उसके साथ छेड़-छाड़ करने की क्या जरूरत है.

बीजेपी पार्टी के एमपी और गायक बाबुल सुप्रियो ने कहा- असली कला लुप्त होने की कगार पर है. मैं इस पर कोई कमेंट नहीं करना चाहूंगा. एक सिंगर होने के नाते मैं सम्मान के साथ आतिफ असलम के इस गाने के लिए दो मिनट का मौन रखना चाहूंगा.

बता दें कि ये गाना बॉलीवुड की आनेवाली फिल्म ‘मित्रों’ में लिया गया है. इसका ऑरिजनल वर्जन पाकीजा फिल्म का है. इसे महान म्यूजिक डायरेक्टर गुलाम मोहम्मद ने बनाया था. ये गाना ट्रेजडी क्वीन मीना कुमारी पर फिल्माया गया था.

Please Follow & Like us:
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *